December 7, 2023

हिमाचल : नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने पंडोह और कुल्लू में जाना बाढ़ पीड़ितों का हाल…!!!

1 min read

डेली हिमाचल न्यूज़ : मंडी-पंडोह 12 जुलाई

पूर्व मुख्यमंत्री व नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने बुधवार को मंडी जिला के पंडोह और कुल्लू के बाढ़ग्रस्त इलाक़ों का दौरा किया और बाढ़ प्रभावितों से मिले। उन्होंने सभी बाढ़ प्रभावितों की हर संभव मदद का भरोसा दिया। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इस बारिश ने भारी तबाही मचाई है। बाढ़ से पूरे प्रदेश में भारी नुक़सान हुआ हैं। जगह-जगह लोगों के घर क्षतिग्रस्त हो गये हैं। आज भी प्रदेश के कई हिस्से पूरी तरह से कटे हुए हैं। सड़कें, पुल सब बह गये हैं। कुल्लू और मंडी को बहुत नुक़सान हुआ है। अभी भी मनाली और बाक़ी के हिस्सों से पूरी तरह से संपर्क नहीं स्थापित हो पाया है। लोग जगह-जगह फंसे हैं और और अपने परिवार के लोगों के साथ संपर्क भी नहीं कर पा रहे हैं। अच्छी बात यह है कि ज़्यादातर पर्यटक सुरक्षित हैं। उन्होंने इस आपदा में राहत और बचाव के लिए समय से एनडीआरएफ़ की टीमें भेजने और पर्यटकों के रेस्क्यू करने के लिए हेलीकॉप्टर की सुविधा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का आभार जताया। नेता प्रतिपक्ष ने अपनी जान की बाज़ी लगाकर लोगों के जीवन रक्षा करने में जुटी एनडीआरएफ़, एसडीआरएफ़, प्रदेश पुलिस और अन्य विभागों के लोगों की प्रसंशा करते हुए उनके प्रति कृतज्ञता ज्ञापित की। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सरकार की इस बारिश से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार नहीं थी।उन्होंने कहा कि हम केंद्र से अपने प्रदेश की हर संभव मदद के लिए प्रयास कर रहे हैं। जिसके परिणामस्वरूप आज बहुत से फंसे हुए लोगों एयरलिफ्ट किया गया है।

बारिश से निपटने के लिए सरकार नहीं थी तैयार : जयराम ठाकुर

इसके साथ ही जयराम ठाकुर ने पंडोह में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया और बाढ़ प्रभावितों से मिले। उन्होंने राहत और बचाव कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि जो भी प्रभावित हैं, उन्हें तत्काल सहायता उपलब्ध करवाई जाए। उन्होंने कहा कि इस बारिश में पंडोह का पुल बह गया। यह पुल 100 साल पुराना था। प्रदेश में सैकड़ों छोटे-बड़े पुल बह गए। लैंड स्लाइड की वजह से सैकड़ों मकान दुकान पूरी तरह से डूब गये और सैकड़ों जगह पर अभी भी ख़तरा बरकरार ह। पंडोह में पूर्व मुख्यमंत्री ने मौके पर ही एडीसी मंडी निवेदिता नेगी को निर्देश दिए कि लोगों की हर बात सुनी जाए और बिजली, पानी तुरंत बहाल किया जाए। लोगों के घरों में घुसा मलवा भी निकाला जाए और तुरंत फौरी राहत जारी की जाए। लोगों ने बीबीएमबी की लापरवाही का मामला उठाते हुए कहा कि प्रशासन को देरी से सूचित करने के बाद ही डैम से अचानक पानी छोड़ा गया जिससे इतनी तबाही यहां मची। अगर समय से सूचित किया होता तो आज 40 परिवार प्रभावित न होते। पण्डोह में उनके साथ स्थानीय विधायक अनिल शर्मा, विधायक बल्ह इंद्र सिंह गांधी, विधायक द्रांग पूर्ण चंद ठाकुर, मिल्क फेड के पूर्व अध्यक्ष निहाल चंद शर्मा और जिला परिषद अध्यक्ष पाल वर्मा उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!